Menu

इलायची के फायदे, गुण एवं घरेलू उपचार – Use of elaichi for medical benefits in Hindi

इलाइची के गुण Elaichi ke Gun, Fayade: Use of elaichi for medical benefits जैसे सिरदर्द, सूजन, नपुंसकता, स्वप्नदोष,  पेशाब,  पथरी, ज्वर (बुखार), दस्त, वमन (उल्टी), दमा, दंत, मुख के छाले, लार, हिचकी, बदहजमी, गैस, यकृत, सफेद दाग आदि बिमारियों के निम्नलिखित घरेलू उपचार इस प्रकार से किये जाते है । Eaichi ke gun aur dosh, Ilaichi ke fayde, Ilaichi ke benefits, side effect, home treatment in Hindi:-

हिंदी नाम
इलायची, वेलची
अंग्रेजी
Cardamom
गुजराती
એલચી
पंजाबी
ਇਲਆਮ
मराठी
वेलची
बंगाली
এলাচ
तेलगू
ఏలకుల
अरबी
هال
तमिल
ஏலக்காய்
कन्नड़
ಏಲಕ್ಕಿ

इलायची के फायदे गुण एवं घरेलू प्रयोग

इलायची के प्रकार

(a)  छोटी इलायची

     

(b) बड़ी इलायची

1.  Use of Elaichi छोटी इलायची माउथ फ्रेशनर होती है खाना खाने के बाद या मांश खाने के बाद छोटी इलयाची के दाने को चूसते रहने से मुख की दुर्गंध दूर हो जाती है। तथा इलायची की सुगंध सबको अपनी ओर आकर्षित कर लेती है। छोटी इलायची का उपयोग मीठा में भी किया जाता है। जिससे की मीठा में स्वाद आता है।

2 .  बड़ी इलायची का उपयोग माउथ फ्रेशनर के रूप में नहीं किया जाता इसका प्रयोग ज्यादा तर खाने की सामग्री में किया जाता है जो गरम मसाले में बड़ी इलायची की अहम भूमिका होता है। यह एक प्रकार का खड़ा मसाला माना जाता है।

इलायची में पाए जाने वाले पोषक तत्व- Nutrients found in cardamom

1. बिटामिन C 2. कैल्शियम 3. मैग्नीशियम 4. पोटेशियम 5. आयरन 6. रिबोफलेविन 7. नियासिन

इलायची के फायदे गुण-Elaichi ke fayade gun

Use of Elaichi इलायची को भोजन में डाल कर खाने से भोजन में स्वाद मिलता है तथा भोजन से सुगंध भी आती है, पाचन क्रिया भी सही ढंग से हो जाती है, मुख की दुर्गंध दूर होती है, एवं एमोनिया को दूर करती है।

सिरदर्द में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि – Use of Elaichi in Headache

इलायची को पीसकर मस्तिष्क पर लगाने से एवं बीजों को पीसकर सूँघने से सिर दर्द में आराम मिलता हैं। इलाइची का प्रयोग सिरदर्द, Headache, માથાનો દુખાવો, डोकेदुखी, తలనొప్పి, தலைவலி, ತಲೆನೋವು, തലവേദന, टाउको दुखाइ, মাথা ব্যাথা, ਸਿਰ ਦਰਦ के लिए अत्यंत लाभकारी होता है।

सूजन में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि-Use of Ilaichi in swelling

इलायची का 2-3 ग्राम छिलका सिर दर्द, दांतों के रोग और मुख की सूजन में लाभकारी होता है।

नपुंसकता में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि-Use of Ilaichi in Impotence

इलायची के बीज का चूर्ण, सफेद मूसली और मिश्री के साथ 2-4 ग्राम की मात्रा में नियमित सुबह शाम सेवन करने से नपुंसकता में लाभ होता है।

स्वप्नदोष में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि- Use of Elaichi in Nightfall 

1 ग्राम इलायची के दाने और इसबगोल, आंवले के 20 मिलीलीटर स्वरस की मात्रा में मिलाकर 1-1 चम्मच सुबह-शाम सेवन से स्वप्नदोष में लाभ होता है।

पेशाब की रुकावट में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि-Use of Elaichi for urine 

1. इलायची के बीज के चूर्ण में बराबर-बराबर मात्रा में मिश्री का बूरा मिलाकर 2-3 ग्राम की मात्रा में प्रातः-सांय उपयोग करने से मूत्रकृच्छ पेशाब के रुकवाट में लाभ होता है। तथा पेशाब खुलकर होने लगती है।

पथरी में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

इलायची चूर्ण खरबूजे के बीज की मींगी और मिश्री मिलाकर 2-3 ग्राम की मात्रा में सेवन करने से गुर्दे के पथरी में लाभ होता है।

ज्वर (बुखार) में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

इलायची के बीज 2 भाग तथा बेल वृक्ष के मूल की छाल 1 भाग का काढ़ा बनाकर 1 चम्मच चूर्ण दूध और पानी में मिलाकर धीमी आंच में पकाकर और केवल दूध शेष रहने पर 20 मिलीग्राम की मात्रा में सुबह, दोपहर तथा सांय सेवन करने से बुखार में लाभ होता है।

दस्त में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

इलायची के 1 ग्राम बीजों का चूर्ण 8 ग्राम बेल गिरी के साथ प्रात काल खाली पेट सेवन करने से अतिसार (दस्त) में लाभ होता है।

वमन (उल्टी) में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

इलायची और पुदीना 2 से 3 ग्राम की मात्रा में मध्यम आग में उबालकर सेवन करने से उल्टी वमन में आराम मिलता है।

दमा में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

दमा या सांस की बीमारी में इलायची का 15 से 20 बूँद तेल मिश्री मिलाकर नियमित सुबह शाम सेवन करने से दमा रोग में आराम मिलता है।

दंत के कीड़े में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

इलायची और लौंग का तेल बराबर-बराबर मात्रा में लेकर दांतों पर मलने से दन्त के कीड़े में आराम मिलता है। 4-5 इलायची के फल को 410 मिलीलीटर पानी में धीमी आंच में उबालकर शेष बचे क्वाथ से कुल्ला करने से दन्त के कीड़े निकल जाते है।

मुख के छाले में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

मुखपाक में इलायची पीसकर हनी में मिलाकर छालों पर लेप करने से मुख के छाले ठीक हो जाते है।

लार में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

यदि अधिक लार आता हो तो इलायची और सुपारी को बराबर-बराबर मात्रा में पीसकर, 1-3 ग्राम की मात्रा में चूसते रहने से लार में लाभ होता है। तथा कष्ट दूर हो जाता हैं।

हिचकी में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

हिचकी में एक कप पानी में दो इलायची पीसकर मध्यम आग में उबालें। जब आधा पानी शेष रह जाये तो उस पानी को पिले हिचकी में तुरंत लाभ होता है।

बदहजमी में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

2-3 ग्राम सौंफ के साथ इलायची के 8-10 बीजों को चूसते रहने से पाचन शक्ति की निर्बलता मिटती है। तथा अधिक केले खाने पर बदहजमी हो जाये तो इलायची खाने से हाजमा ठीक हो जाता हैं। इलायची के बीजों का चूर्ण और शुंठी चूर्ण दोनों की एक साथ 1 चम्मच नियमित सेवन करने से बदहजमी में लाभ होता है।

पेट की गैस में इलायची के फायदे एवं घरेलू उपचार

इलायची के बीजों का 1.50 ग्राम चूर्ण काले नमक के साथ सेवन करने से पेट की गैस में लाभ होता है।

2. इलायची का छिलका सहित बड़ी इलायची 10-12 नग लेकर जौ कूट कर 300 ग्राम दूध और 200 ग्राम पानी के साथ माध्यम आग में पकाले, शेष रहने पर छानकर उसमें थोड़ी मिश्री मिलाकर दिन में तीन बार पिलाने से पेशाब की जलन व रुकावट दूर होती है।

यकृत में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

इलायची का चूर्ण 2-3 ग्राम राई को पीसकर बराबर की मात्रा में नियमित सेवन करने से यकृत के रक्त संचय आदि विकारों में लाभ होता है। इलायची का 1-2 ग्राम चूर्ण का नियमित सेवन करने से यकृत वृद्धि में लाभ होता है।

सफेद दाग में इलायची के फायदे एवं सेवन विधि

बड़ी इलायची, चित्रक मूल, कुंदरू, मदार की पत्ती, अडूसा की पत्ती, निशोथ, सौंठ इन सबके चूर्ण पलाश क्षार को गौमूत्र में घोलकर लेप बनाकर 8 दिनों तक पलाश क्षार की भावना को शरीर पर लेप करके धूप में बैठे कर सूखा ले इससे शीघ्र ही मंडल कुष्ठ फूट जाते है और घाव शीघ्र भर जाते हैं।

Elaichi ke Fayde,  Elaichi ke Aushadhiy Prayog, Elaichi ke Gun, Elaichi ke Aurvedik Upchar, Elaichi Khane ke Fayde, Elaichi ke Fayde evam Sevan Vidhi,  Elaichi ke Gharelu Upchar, Elaichi ke Labh. इलाइची खाने के फायदे Elaichi Khane ke Fayde, Cardamom uses benefits in hindi.

Comments

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *