Menu

अनार-Anar wiki-Pomegranate-अनार जूस सेक्स और स्वास्थ्य

anar

अनार-Anar-Pomegranate अनार जूस सेक्स और स्वास्थ्य: अनार के जूस से केवल  सेक्स की इच्छा ही नहीं बढ़ती अपितु स्वास्थ्य के लिए भी अत्यंत लाभकारी होता है, चेहरे में निखार और सुंदर बनाने में अहम भूमिका निभाता है। अनार के गुण निम्नलिखित हैं :-

खुशहाल वैवाहिक जीवन: अगर आप एक खुशहाल वैवाहिक जीवन चाहते है तो रोजाना अनार का सेवन करें।

anara

अनार का वैज्ञानिक अध्ययन: अमेरिकी वैज्ञानिकों ने अपने नए अध्ययन में अनार को सुपरफूड करार दिया है। उनके अनुसार इसके नियमित सेवन से न केवल बुढापा दूर रहता है, बल्कि यौन सक्रियता भी बढती है। यह अध्ययन 58 वॉलंटियरों पर किया गया, जिनकी उम्र 21 से 64 साल के बीच थी। एक पखवाड़े के अंत तक स्त्री और पुरुष दोनों में टेस्टोस्टेरोन स्तर में इजाफा देखा गया। पुरुषों में यह मूंछ, दाढ़ियों को प्रभावित करता है, आवाज भारी होती है और उसके साथ ही सेक्स की इच्छा में इजाफा होता है। वैज्ञानिकों ने पाया कि इससे महिला एडरेनल ग्लैंड और डिंबाशय पर असर पड़ता है। उनमें सेक्स की इच्छा बढ़ती है और साथ ही उनकी हड्डियां तथा मांसपेशियां मजबूत होती हैं।

अनार का दिल की बीमारियों से बचाव: दिल की बीमारियों से बचाव और तनाव का स्तर घटाने में भी यह कारगर है। इस निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए वैज्ञानिकों ने 600 लोगों पर अनार के फायदे आजमाए। उन्होंने पाया कि अनार शरीर में 8-ऑक्सो-डीजी तत्व का स्तर घटाता है, इससे कोशिकाएं सुरक्षित रहती है।

अनार एवं सेक्स की समस्या: यदि आप के अंदर कहीं सेक्स की इच्छा दबी-दबी सी तो बस एक गिलास अनार का रस लें, कम से कम 15 दिन और फिर असर देखें। जी हां, एडिनबर्ग की क्वीन मारग्रेट यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने पाया है कि जो पुरुष और महिलाएं रोजाना एक गिलास अनार का रस एक पखवाड़े तक पीते हैं, उनमें टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का स्तर बढ़ता है। यह हार्मोन स्त्री और पुरूष दोनों में सेक्स की इच्छा बढ़ाता है।

anar sex

अनार का अच्छे मूड, याददाश्त,रक्तचाप, डर, दुख, पश्चाताप, शर्म आदि पर अनुसन्धान: अनुसंधानकर्ताओं की मानें तो बढ़े हुए टेस्टोस्टेरोन का एक और फायदा होता है। यह आपका मूड अच्छा करता है और साथ ही याददाश्त बढ़ाता है। तनाव से भी आपको निजात दिलाता है। ‘डेली मेल’ की एक रिपोर्ट के अनुसार एडिनबर्ग अनुसंधान में हिस्सा लेने वाले लोगों का टेस्टोस्टेरोन स्तर, रक्तचाप और एक वैज्ञानिक पैमाने का उपयोग करते हुए डर, दुख, पश्चाताप, शर्म समेत 11 भावनाओं का स्तर मापा गया। अध्ययन में पाया गया कि टेस्टोस्टेरोन का स्तर 16 प्रतिशत से 30 प्रतिशत तक बढ़ा है, जबकि रक्तचाप में गिरावट आई है। इससे सकारात्मक भावनाएं बढ़ी हैं और नकारात्मक भावनाएं घटी हैं।

अनार आयुर्वेदिक औषधि एवं वैज्ञानिक अनुसन्धान

बादाम तेल से लाभ

Comments

Comments

No Responses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *